“गोंडिया, ठाणे ऐं इंदौर में सिंधी विद्यारथुन जे लाये मार्गदर्शन शिविर”

” अचो सिंधी समाज खे सशक्त ठायन् में हिकु कदम अगते वधायुं, सिंधी बोलीं सां बारन् खे IAS बणायु ”

🙇 राष्ट्रीय सिंधी भाषा विकास परिषद्  (NCPSL, New Delhi, GOI) के क्रियाकलापों में आई अपेक्षित तेजी ।

🙇विगत वर्ष के नवम्बर माह में  NCPSL की नयी कार्यकारिणी का गठन हुआ इसी वर्ष मई माह में निदेशक के तौर पे “डॉ रवि प्रकाश टेकचंदानी” की नियुक्ति हुई।

🙇जब से नयी कार्यकारिणी का गठन हुआ और रवि जी ने बतौर निदेशक काम करना शुरू किया है NCPSL के सिंधी भाषा के विकास के लिए किये जा रहे क्रियाकलापों को अपेक्षित दिशा और गति  प्राप्त हुई है।

🙇 NCPSL  सिंधी भाषा के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए भारत सरकार द्वारा स्थापित स्वायत्साशी संस्था है। वैसे तो यह संस्था वर्ष मई 1994  में अस्तित्व में  आयी थी लेकिन अपने अस्तित्व के इतने वर्षों में  इसकी कोई विशेष उपलब्धि नहीं रही है।

🙇NCPSL की वर्तमान नेतृत्व की गतिविधियों से एक नयी ऊर्जा का संचार हुआ है। उनकी निदेशक के तौर पे नियुक्ति के 2 माह के भीतर ही उन्होंने अजमेर स्थित MDS यूनिवर्सिटी में  सिंधी शोध् संस्थान की स्थापना करवाने में  सफल हुए। यह संस्थान सिंधी भाषा के सभी पहलुओं उदभव, भूगोल, इतिहास, वर्तमान दशा और भविष्य यानि सभी पहलुओं पर शोध करेगा और अपना शोध पत्र सिंधी, हिंदी, और अंग्रेजी  तीनो भाषाओं में उपलब्ध करवायेगा ताकि सभी इसका लाभ ले सकें।

🙇इसके अलावा भी सिंधी भाषा के संरक्षण और संवर्धन के NCPSL का वर्तमान नेतृत्व जिसमे उनकी उपाध्यक्ष श्रीमती अरुणा जेठवानी का नेतृत्व विशेष रूप से उल्लेखित करने योग्य है, कई योजनाओ  को मूर्तरूप देने की प्रक्रिया में  पूर्ण रूप से समर्पित है।

🙇 इन्ही योजनाओं में  एक योजना सिंधी भाषा को  सिंधी समाज के सशक्तिकरण का माध्यम बनाने की है। सिंधी समाज मुख्य रूप से  व्यवसायी समाज है और उनका सरकार के तीनो प्रमुख अंगो विधायिका, प्रशासन  न्यायपालिका में प्रतिनिधित्व न के बराबर है और जब तक सरकार के इन तीनो अंगो में  सिंधियों का प्रतिनिधित्व सुनिश्चित नहीं होता है तब तक सिन्धियत और सिंधी भाषा के सामने अस्तित्व का संकट बना रहेगा।

🙇 विधायिका और न्यायपालिका में  प्रवेश के लिए सिंधी भाषा का उपयोग नहीं हो सकता है लेकिन भारत सरकार और राज्य सरकारों के उच्च प्रशासनिक पदों पे पहुँचने के लिए सिंधी भाषा का बहुत प्रभावी भूमिका है।

🙇 भारत की सबसे शक्तिशाली प्रसाशनिक सेवा भारतीय प्रसाशनिक सेवा यानी IAS की प्रवेश परीक्षा में सिंधी भाषा का भी एक परचा होता है।

🙇 IAS प्रवेश परीक्षा तीन 3⃣ चरणों में संपन्न होती है।

1⃣पहला चरण में व्यक्ति का apptitude और सामान्य ज्ञान की परीक्षा होती है। इसका प्रश्न पत्र multiple choice objective type होता है। पहला चरण पास करने के बाद व्यक्ति

2⃣दूसरे चरण की परीक्षा के लिए qualify करता है जिसे IAS MAINS EXAM कहते हैं। इस चरण की परीक्षा subjective टाइप होती है। इस चरण में  कुल 9 पेपर होते हैं जिनके कुल अंक 1750 होते हैं। 9 पेपर में  2 पेपर qualifying होते हैं और इनके अंक मेरिट में नहीं जुड़ते है। बाकी के 7 पेपर्स  में 2 पेपर सिंधी भाषा और सिंधी साहित्य के होते हों जिनका कुल अंक 500 होता है। बाकी के 5 पेपर सामान्य ज्ञान के होते है। दूसरा चरण पास करने के बाद व्यक्ति 3⃣ तीसरे चरण के लिए qualify करता है। इस चरण में व्यक्ति का साक्षत्कार होता है और साक्षात्कार 275 अंक का होता है।

🙇मेरिट में दूसरे चरण यानि mains और साक्षात्कार के ही अंक जुड़ते हैं यानि 1750+275=2025।  जो प्रतियोगी 2025 में लगभग 800 अंक हासिल कर लेता है वह भारतीय प्रशासनिक सेवा के लिए चुन लिया जाता है।

🙇 यदि इसको ढंग से समझा जाए तो कुल 2025 अंक में सिंधी भाषा और साहित्य के 500 अंक हैं। यानि लगभग 25%। IAS जैसी अत्यधिक प्रतिस्पर्धात्मक परीक्षा जहाँ 1/2 अंक का भी महत्व है वहां यदि 25% weightage सिंधी को हो यह बहुत मायने रखता है।

🙇 सिंधी भाषा हम सिंधियों की सशक्तिकरण के लिए सबसे बड़ी नियामत है। यदि सिंधी भाषा लेकर हमारे युवा भारत की सबसे शक्तिशाली संस्था का अंग बनते हैं तो यह भाषा के संरक्षण और संवर्धन का सबसे बड़ा जरिया है ।

🙇हमारी आप सभी को यह  चुनौती है कि आप आज के सिंधी युवा को सिंधी साहित्य को पढ़ने के लिए बाध्य नहीं कर सकते हैं, लेकिन यदि यही सिंधी भाषा हमारे युवाओं के लिए देश की सबसे शक्तिशाली संस्था के दरवाजे खोलती है तो वे ख़ुशी ख़ुशी इस भाषा को अपनाएंगे।

🙇सिंधी भाषा के इसी महत्व को सिंधी भाषियों के मध्य प्रचारित करने के लिए NCPSL ने पुरे देश में वर्तमान वित्तीय वर्ष में 10 IAS प्रवेश परीक्षा कार्यशालाओं का आयोजन करने की योजना बनायीं है।

🙇पहले चरण में  विगत 2 अगस्त को NCPSL द्वारा उदयपुर शहर में  इस कार्यशाला का सफल आयोजन किया गया। यह  कार्यशाला भारतीय सिंधु सभा के राष्ट्रीय अधिवेशन के दौरान आयोजित की गयी। कार्यशाला के मुख्या वक्ता श्री राजाराम जी और श्री रवि टेकचंदानी जी  थे जिन्होंने उपस्थित जनसुमह को इस एग्जाम की बारिकियो  और सिंधी भाषा के महत्व पर प्रकाश डाला। उनके वक्तव्यों के बाद कई छात्र इस कैरियर के लिए प्रेरित हुए।

🙇सिंधी समाज के इस सशक्तिकरण अभियान में श्री राजाराम जी के इस पुरे अभियान में योगदान पे प्रकाश डालना बहुत जरुरी है। श्री राजाराम जी 1989 बैच के IPS ऑफिसर हैं। वर्तमान में वो रेलवे बोर्ड  दिल्ली में DIG RPF के पद पे नियुक्त हैं। राजाराम जी वो पहले IPS अधिकारी थे जिन्होंने सिंधी भाषा विषय लेके IAS entrance exam पास किया था । First  Sindhi IPS Officer

🙇तब से वो सिंधीयों को सिंधी भाषा के माध्यम से सशक्त बनाने के अभियान में जुटे हुए हैं। अपनी वर्तमान नियुक्ति के पहले वो लखनऊ में लगभग चार वर्ष रेलवे में बतौर चीफ सिक्यूरिटी कमिश्नर  नियुक्त रहे। अपने चार वर्ष के लखनऊ प्रवास के दौरान समाज के सशक्तिकरण के लिए लखनऊ के सिंधी समाज को प्रोत्साहित करते रहे।

🙇उनके मार्गदर्शन में  “सिंध वेलफेयर सोसाइटी” का गठन हुआ जो आज सिंधी समाज के सशक्तिकरण के लिए काम कर रही देश की अग्रणी संस्था है। उनके मार्गदर्शन मे यह संस्था अब तक इस तरह की 2⃣5⃣ कार्यशालाओं का आयोजन देश के प्रमुख शहरों में कर चुकी है। इनमें 3⃣ कार्यशालाएं पांच दिवसीय थी जो पिछले 3 सालों में लखनऊ स्थित “शिव शान्ति संत आसूदाराम आश्रम” में  आयोजित की गयीं थी।

🙇इन कार्यशालाओं में  पुरे देश से आये सिंधी बच्चों ने भाग लिया। उन्हीं बच्चों में  कुछ बच्चे दिल्ली रहकर विशेषज्ञ प्राध्यापको के मार्गदर्शन में IAS प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। इनमें से कुछ बच्चों की पढाई का पूरा खर्च इस संस्था (सिंध वेलफेयर सोसाइटी) द्वारा वहन किया जा रहा है।

🙇वर्ष 2014 की IAS की mains परीक्षा मैं  इस संस्था के मार्गदर्शन में  तैयारी कर रहे 3 छात्र उत्तीर्ण हुए और उनमें से एक छात्रा ने IAS परीक्षा के अंतिम चरम को पास कर IAS अधिकारी बनने में सफलता पायी। इस वर्ष आगामी 24 अगस्त को 35 छात्र सिंधी विषय लेके IAS प्रवेश परीक्षा के प्रथम चरण में appear होंगे।

🙇इसी सशक्तिकरण अभियान को आगे बढ़ाने के लिए NCPSL अगस्त माह में  तीन IAS प्रवेश परीक्षा कार्यशालाओं का आयोजन कर रही है।

1 पहली कार्यशाला दिनांक 8.08.15 को दोपहर 12 बजे से महाराष्ट्र के “गोंडिया” शहर में सिंधी कॉलोनी स्थित सक्खर पंचायत धर्मशाला में प्रस्तावित है।

इस कार्यशाला के लिए गोंडिया शहर की स्थानीय संस्था विदर्भ सिंधी विकास परिषद् और सक्खर सिंधी पंचायत संयुक्त रूप से सहयोग कर रही हैं।
image

2. दिनांक 9.08.15 दोपहर 12 बजे से को दूसरी कार्यशाला “इंदौर” शहर में  खंडवा रोड स्थित क़ुईन्स कॉलेज में  प्रस्तावित है। इसके लिए स्थानीय संस्था पूज्य सिंधी पंचायत इंदौर सहयोग कर रही है।

image

3. तीसरी कार्यशाला दिनांक 22.08.15
प्रातः 10 बजे से ठाणे शहर स्थित मैन्युफैक्चरर एसोसिएशन हाल, वार्ड 16,  वागले एस्टेट द्वारका होटल
के निकट आयोजित की गयी है। इस कार्यशाला के लिए ठाणे की स्थानीय संस्था सर्व सेवा समिति सहयोग कर रही है।
image

👉इन कार्यशालाओं के लिए मुख्य  वक्ता के रूप में  DIG राजाराम जी और डॉ रवि प्रकाश  टेकचंदानी जी संबोधित करेंगे।

👉इन कार्यशालाओं के माध्यम से जो बच्चे आगे IAS प्रवेश परीक्षा की तैयारी करना चाहेंगे उनको सिंध वेलफेयर सोसाइटी मार्गदर्शन और सहयोग प्रदान करती रहेगी। उम्मीद है की डॉ रवि प्रकाश टेकचंदानी और श्रीमती अरुणा जेठवानी के संयुक्त नेतृत्व में राष्ट्रीय सिंधी भाषा विकास परिषद् के माध्यम से सिन्धियत को एक  सम्मानित मुकाम हासिल होगा।

👉कार्यशाला के सम्बन्ध में  अधिक जानकारी के लिए निचे दिए गए नंबर्स पे संपर्क किया जा सकता है ।

📞इंदौर: 👉👉👉👉👉👉

जी. डी. गिडवानी  -9827043124
मनीष देवनानी      -9424842342
नन्दलाल खथुरिया -9754551212
डायल ठाकुर        -9424565785
मनोहर नागपाल    -9827277715

📞गोंदिया: 👉👉👉👉👉👉

कमल वाधवानी : 9325245290/ 9823823031

📞ठाणे: 👉👉👉👉👉👉

सर्व सेवा समिति (ठाणे)
——————————-
               जय झूलेलाल                             “हमारा Mission सशक्त सिंधी समाज”

Empowerment of Sindhi’s Whatsapp Broadcast SeWa

अगर आप एक सशक्त सिंधी समाज की मुहीम में हमारे साथ जुड़ना चाहते है। तो 9559544477 को “Empowerment of Sindhi’s” के नाम से save करें और अपना नाम , शहर का नाम हमें whatsapp par send करें। हमारे साथ भारत के 65 शहरो° और 15 देशों से 5000+ सिंधी 2 महीने में जुड़ चुके हैं।

सेवा में,
अतुल राजपाल
+91-9335037618
राष्ट्रीय अध्यक्ष्
सिंध वेलफेयर सोसाइटी (भारत)

सतेंद्र भवनानी
राष्ट्रीय महासचिव
सिंध वेलफेयर सोसाइटी (भारत)
9935599966

http://www.sindhwelfare.org

http://www.sindhwelfare.WordPress.com

facebook.com/sindhwelfare

facebook.com/Empowermentofsindhis

To join SWS Power of Women~ Call President Preeti Dembra Cell: 7275939555
fb page: facebook.com/swspw

To join SWS Youth Wing: Call President~Sunil Jotwani-Cell: 9335912695
fb page| facebook.com/swsyuwamandal

🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩

Message Powered by
Sumit Manglani (Head – IT & Media Department)
SWS India

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s